Home

6/recent

डायरेक्टर ने विद्या बालन को कमरे में बुलाया, उसके बाद विद्या ने 6 महीने तक शीशे में नहीं देखी अपनी शक्ल

बॉलीवुड की बेहतरीन अदाकारा विद्या बालन ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। विद्या बालन ने अपने पुराने दिनों को याद करते हुए कहा है कि जब वह दक्षिण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में काम कर रही थी। उस दौरान उनके साथ एक ऐसी घटना घटी जिसके कारण उन्होंने अपना चेहरा शीशे में नहीं देखा वह भी लगभग 15 दिन। यह घटना तब घटी जब उन्होंने हिंदी फिल्म इंडस्ट्रीज में कदम नहीं रखा था माता पिता के साथ चेन्नई में विद्या बालन काम की तलाश में एक प्रोडूसर से दूसरे प्रोडूसर कि ऑफिस में भटक रहे थी। विद्या बालन ने काफी लंबा संघर्ष किया उसी संघर्ष के दौरान उन्हें मुलयालम और तमिल फिल्म मे काम करने का मौका मिलने लगा। विद्या ने कहा कि इसके पीछे एक चौंकाने वाला कारण भी था कहां में कास्टिंग काउच के मामले से गुजर रही थी वहीं घटना के बाद मुझे कई फिल्मों से बाहर निकाल दिया गया बल्कि उनके ऊपर गंदी-गंदी टिप्पणियां भी की गई। यह सारा खुलासा विद्या बालन ने एक इंटरव्यू में दिया है उन्होंने कहा कि उनके पास फिल्मों की ढेर थी और उन्होंने कई फिल्मों की शूटिंग भी कर ली थी लेकिन एक दिन ऐसा आया डायरेक्टर ने स्क्रिप्ट बताने को लेकर के उनके साथ ऐसी हरकत कि उन्होंने कभी सपनों में नहीं सोचा था। विद्या बालन कहती है कि डायरेक्टर ने कहा कहां हो तो मैं इस स्क्रिप्ट दिखानी है। फिर क्या था विद्या बालन ने कहा किसी कॉफी शॉप पर मिल लेते हैं लेकिन डायरेक्टर बार-बार विद्या बालन से रूम में चलने को बोल रहा था और विद्या डायरेक्टर की इरादे को समझ चुकी थी। विद्या ने सोचा कि डायरेक्टर ऐसे सुधारने वाला नहीं है बार-बार डायरेक्टर कमरे में चलने को बोल रहा था और विद्या ने सोचा कि अब डायरेक्टर को मजा सिखाते हैं विद्या डायरेक्टर के साथ कमरे में गई लेकिन बड़ी ही चतुराई से विद्या बालन ने कमरे का दरवाजा खुला रखा विद्या का मिजाज देखकर डायरेक्टर भी चौकन्ना हो गया और इधर उधर की बातें करके विद्या बालन को अपने फेवर में कर रहा था। और सही मौका देखकर डायरेक्टर विद्या बालन की कमरे से बाहर आ गया फिर क्या था विद्या बालन को इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ा। विद्या बालन ने कहा कि इस तरह की कई घटनाएं घट चुकी है। उस समय विद्या बालन के पास 10 फिल्में थी। लेकिन डायरेक्टर की बात विद्या बालन ने नहीं मानी तो उन्हें कई फिल्मों से निकाल भी दिया गया। जब विद्या बालन ने डायरेक्टर से फिल्म से निकालने की वजह पूछी तो डायरेक्टर ने कहा कि कहां से हीरोइन लगती हो। फिर इस पीड़ा से भरने के लिए विद्या बालन को 6 महीने लग गए विद्या बालन कहती हैं कि इस कठिनाई के दौर में 6 महीने शीशे में अपनी शक्ल तक नहीं देखी। आप इस खबर के बारे में क्या समझते हैं कमेंट बॉक्स में अपनी राय हमें अवश्य लिखें।