Home

6/recent

गन्ना किसानो का 111 करोड़ का नहीं हुआ भगतान ...

बजाज शुगर मिल के गन्ना पेराई सत्र 2019 की शुरुआत पूजा-पाठ व हवन के बाद कर दी गई है लेकिन अभी तक किसानों का गन्ना बकाया भुगतान 111 करोड़ रूपया नहीं हो पाया है जिससे नाराज प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए भी इनके मेल खाते से 1997 हेक्टेयर गन्ना फसल को काटकर अन्य मिल से जोड़ दिया है वही यूनिट हेड का कहना है कि गन्ना क्षेत्रफल में कमी तो जरूर है लेकिन उत्पादन बहुत अच्छा हुआ है अभी पिछला गन्ना भुगतान बाकी है इसके लिए हमारा प्रबंधन प्रयास कर रहा है हालांकि पिछले सालों में हमारी रिकवरी बहुत कम रह गई थी इसकी वजह से हमारी प्रोडक्शन कास्ट भी नहीं निकल पाई थी इस वर्ष हमें उम्मीद है कि हमारी प्रोडक्शन कास्ट निकलेगी और जो हमारी प्रोडक्शन कास्ट आती है उसको मीट आउट कर पाएंगे और 238 वैरायटी के गन्ने की उपज है उससे किसानों का पिछला बकाया भुगतान किया जा सकेगा गोंडा के बजाज शुगर मिल में मंत्र उच्चारण व हवन पूजन के बाद इस सत्र का गन्ना पेराई सत्र शुरू हो गया जिस पर यूनिट हेड जेबी सिंह सहित अन्य अधिकारियों ने पूजा पाठ कर पेराई सत्र की शुरुआत कर दी है यूनिट हेड ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि 238 वैरायटी को चेंज किया है उनकी बदौलत उनकी उपज बढ़ रही है उसका सीधा सीधा लाभ हम किसान भाइयों को मिलेगा इस बार अधिक उत्पादन प्राप्त होने की संभावना है गन्ना क्षेत्रफल घटा है लेकिन उत्पादन बढ़ा है हम लोग इस बार नई एक्स ट्राली लाने जा रहे हैं जो किसानों को हम उनके गन्ना मूल्य भुगतान के बाद उनको उपलब्ध कराएंगे उसमें फायदा ही होगा कि किसानों का गन्ना 40 से 45 कुंटल एक ट्राली में तो ले जाएगा और सीधा कैन कैरियर पर आएगा और 2 मिनट के अंदर पूरा चालक खाली हो कर चला जाएगा उसके लिए हम सब एक लाइन भी देने जा रहे हैं।