Home

6/recent

क़ानून के लंबे हाथों ने शातिर अपराधियों पर कसा शिकंजा, मिली बड़ी कामयाबी...

अपराधी कितने भी होशियार क्यों ना हो पर कहा जाता है कि कानून के हाथ लंबे होते हैं । वह पुलिस के हाथों से बच नहीं सकते। ऐसे ही एक लूट कांड के मामले में अमेठी पुलिस तथा स्वाट टीम के संयुक्त ऑपरेशन में बड़ी सफलता हाथ लगी है। जिसमें लूट करने वाले चार अभियुक्तों को लूट की 6 मोबाइल फोन, एक पिस्टल 0.32 बोर मय दो अदद जिंदा कारतूस व एक अदद तमंचा 315 बोर मय तीन अदद जिंदा कारतूस व एक अदद घटना में प्रयुक्त की गई सफेद रंग की टाटा सफारी गाड़ी पुलिस के हत्थे चढ़ी। पुलिस अधीक्षक अमेठी डॉक्टर ख्याति गर्ग के निर्देशन में अपर पुलिस अधीक्षक दयाराम सरोज के परीक्षण तथा मुसाफिरखाना के पुलिस क्षेत्राधिकारी सूक्ष्म प्रकाश के नेतृत्व में अपराधियों की धरपकड़ से चलाए जा रहे अभियान के क्रम में आज दिनांक 19 नवंबर 2019 को थानाध्यक्ष कमरौली संदीप कुमार तथा स्वाट टीम के संयुक्त तत्वाधान में कादू नाला हाईवे पर पुल के पास गिरफ्तार कर लिया गया । इन अभियुक्तों की गिरफ्तारी के बाद तलाशी वा पूछताछ पर अभियुक्त मोहम्मद मोहिन पुत्र जान मोहम्मद निवासी पुरे नवाज थाना मुसाफिरखाना जनपद अमेठी का नाम प्रकाश में आया जो कि मौजूदा समय फरार है। थाना मुसाफिरखाना में मोबाइल फोन के कारोबारी जाहिद उल्ला एक बड़े बैग में डेढ़ सौ मोबाइल तथा छोटे बैग में 15-20 मोबाइल लेकर घर जा रहा था । तभी इमाम बाग रजवाहा नहर पुलिया के पास टाटा सफारी पर सवार लोगों ने 15-20 मोबाइल जिस बैग में था लूट करके भागे थे। जिसके संबंध में थाना मुसाफिरखाना में मुकदमा अपराध संख्या 416/19 धारा 392 पंजीकृत हुआ था और पुलिस द्वारा लगातार इन लोगों की तलाश की जा रही थी। आज सुबह इन चारों लोगों गिरफ्तारी के उपरांत आदत मोबाइल विभिन्न कंपनियों की एवं एक अदद पिस्टल मेड इन यूएसए 0.32 बोर मय दो अदद जिंदा कारतूस व एक अदद तमंचा 315 बोर मय तीन अदद जिंदा कारतूस व एक अदद घटना में प्रयुक्त की गई सफेद रंग की टाटा सफारी गाड़ी जिसका नंबर यूपी 44 एस 1568 पुलिस के हत्थे चढ़ी। तीन गिरफ्तार हुए अभियुक्तों ने मानू उर्फ रजी अहमद तथा शिव शंकर पांडे पुत्र रामनिवास का पूर्व में किया हुआ विभिन्न थानों में आपराधिक इतिहास मौजूद है।