Home

6/recent

उस घड़ी लगता है मैं भी जन्नत मे हूं,अपने क़दमो में जब भी सुलाती है माँ...

सुल्तानपुर बल्दीराय तहसील के क्षेत्र में चक्कारी भीट गांव में गोमती नदी तट पर बाबा जुडई शहीद की मजार पर दो दिवसीय सलाना उर्स बड़े धूमधाम से मनाया गया।उर्स में बाबा की मज़ार पर सैकड़ो जायरीनो का तांता लगा रहा।सभी धर्म के लोग बाबा की मजार पर प्रसाद(सिन्नी)व चादर चढ़ा कर अपने लिए व मुल्क की सलामती की दुआएं मांगी।बाबा की मजार पर हर वर्ष दो दिवसीय का आयोजन किया जाता हैं।उर्स के पहले दिन रात्रि में बाबा की मजार पर दूर दराज से आये कव्वालों ने कव्वाली पेश की,जो देर रात तक चला।उर्स के दूसरे दिन सुबह मजार पर कुरआन खानी,ग़ुस्ल, लँगरेआम,व मेला का आयोजन किया गया।रात्रि में जश्ने-ईद-मिलादुन्नबी (जलसा) का प्रोगाम किया गया, जलसे की शुरुआत बाराबंकी से आये मौलाना सलमान रज़ा नें तिलावते क़ुरआन पाक से किया,मौलाना शरीफ नवाज़ क़ादरी ने नात शरीफ़ पढ़ा तो वहां मौजूद लोग खुशी से झूम उठें.