Home

6/recent

तालीम मुसलमानों के लिए हैं जरूरी - मौलाना वसी हसन खॉ


अंबेडकरनगर - लोरपुर ताजन के मोहल्ला हुसैनाबाद में शुक्रवार की रात्रि इमामबारगाह मरहूम मीर तालिब हुसैन में सैयद मुजतबा हुसैन मरहूम की बरसी की मजलिस का आयोजन कैफी रिज़वी की तरफ से किया गया। मजलिस का आगाज पेशखवानी से  सैफ अली व सोजखवानी से नैय्यर हुसैन खॉ ने किया। मजलिस को संबोधित करते हुए मौलाना वसी हसन खॉन वसीका अरबी कॉलेज फैजाबाद ने कहा कि कहा कि कर्बला के शहीदों की शहादत को दुनिया कयामत तक याद रखेगी।
 हजरत इमाम हुसैन ने अपनी कुर्बानी देकर इस्लाम को जिंदा रखा। उन्होंने लोगों से नमाज पढ़ने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि मुसलमान तालीम से भी जुड़े, ताकि उनके बच्चों का मुस्तकबिल संवर सके मजलिस के दौरान कहा कि रसूले पाक के नवासे हजरत इमाम हुसैन ने नाना के दीन को बचाने के लिए कर्बला में शहादत दे दी, लेकिन जुल्म के आगे सिर नहीं झुकाया। इमाम हुसैन की कुर्बानी को दुनिया कयामत तक याद रखेगी। मौलाना ने कहा कि मुसलमानों को नमाज की पाबंदी करनी चाहिए। नमाज रसूले पाक की आंखों की ठंडक है। उन्होंने कहा कि तालीम मुसलमानों के लिए जरुरी है। वलिदेन उनके बच्चों को दीनी व दुनियावी तालीम दिलाएं
रिपोर्ट: मोहम्मद यूसुफ