Home

6/recent

हजरत हक्कानी शाह रहमतुल्लाह अलेह की दरगाह बनी हिंदू मुस्लिम एकता की मिसाल

बुनकर नगरी टांडा के बादशाह हजरत हककानी शाह रहमतुल्लाह अलेह का आज उर्स मुबारक अपने उरूज पर है जिसके लिए दूर-दूर से जायरीन जियारत व मन्नत मांगने आते हैं यह आस्ताना हिंदू मुस्लिम एकता के लिए एक मिसाल है इस मिसाल को हकीकत का रूप देते हुए अलीगंज एस० ओ० व पुलिस प्रशासन की तरफ से भी चादर पोशी की रस्म को अदा किया गया कहा जाता है कि हककानी शाह रहमतुल्लाह अलेह अमेठी के रहने वाले थे यह लखनऊ से होते हुए टांडा पहुंचे आपके आने से टांडा की सरजमी मालामाल हो गई जिसे आज हम बुनकर नगरी के नाम से जानते हैं आपको बताते चलें की हजरत हक्कानी शाह रहमतुल्ला अलेह का आस्ताना मुबारक जहां मौजूद है उसे हम तलवा पार के नाम से जानते हैं जोकि कई सौ साल पुराना बताया जाता है। मोहम्मद यूसुफ की रिपोर्ट