Home

6/recent

प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाओं स्वास्थ्य पर अधिकारी

प्रदेश सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर के लाख दावे और वादे करें लेकिन स्वास्थ्य बांदा जनपद स्वाथ्य सेवाए  सुधरने का नाम नहीं ले रही बांदा जनपद में सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाओं को स्वास्थ्य महकमा पलीता लगाने में जुटा हुआ है आपको बता दें बांदा जनपद के तिंदवारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में सरकार के द्वारा दी जाने वाली आम जनता को तमाम कल्याणकारी योजनाएं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी सहित और समुचित रूप से नहीं पहुंचा पा रहा आज समुदायिक स्वास्थ्य का रियल्टी चेक किया गया जिस दौरान वहां पर तमाम खामियां सामने आई लेकिन स्वास्थ्य महकमे के जुम्मेदार अधिकारी हरकत से बाज नही आ रहे और संविदा यूनानी फार्मासिस्ट कर रहा है अपनी मनमानी शिकायत के बावजूद नहीं हुई अभी तक कोई कार्यवाही अस्पताल परिषद के अंदर जगह जगह मिली शराब की बोतलें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बन गया है शराबियों का अड्डा।



आपको बता दें बांदा जनपद में इन दिनों स्वास्थ्य सेवाए बेहाल है बांदा मे सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाएं को स्वास्थ्य महकमे को आम जनता को उपलब्ध कराई जानी चाहिए वो व्यवस्थाएं पूर्ण रूप से फेल हो चुकी इसकी बानगी  तिंदवारी सामुदायिक स्वास्थ्य में देखने को मिली है जहां आज न्यूज़ चैनल के रियलिटी चेक में स्वास्थ्य महकमे की पोल खुल गई वहां मौजूद भर्ती तमाम मरीज को दी जाने वाली तमाम कल्याणकारी योजना जो भी चल रही हैं वह फेल नजर आ रही हैं वहां भर्ती मरीजों को महिलाओं को स्वास्थ्य विभाग द्वारा किसी भी तरह का भोजन नहीं वितरण किया जा रहा है।




हालांकि प्रदेश सरकार पूरे यूपी के सभी अस्पतालों में यह लागू कर चुकी है कि अस्पताल में जो भी व्यक्ति भर्ती होगा उनको भोजन दोनों वक्त का पोस्टिक भोजन दिया जाएगा लेकिन यहां पौष्टिक भोजन तो दूर यहां पर किसी भी तरह का कोई भी खाना भर्ती मरीजों की तमाम परेशानियां बनी हुई है अस्पताल परिसर में गंदगी का अंबार लगा हुआ है जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है संतोष कुमार को स्वास्थ्य महकमे तिंदवारी की कोई कमी नहीं दिख रही ऐसा क्या है जो कि हजारों कमियां होने के बाद स्वास्थ्य अधिकारी संतोष कुमार सिंह को नहीं नजर आ रहा अब देखने वाली बात है क्या इन मरीजों को खाना मिल पाता है या नहीं मिल पाता मरीजों को परेशान होकर भटकना पड़ेगा! फ़िलहाल कुछ जुम्मेदार दलालों के भरोसे पूरा तिंदवारी पीएससी चल रहा है।