Home

6/recent

क्या आप जानते हैं जमीन को हम कितनी गहराई तक खोद सकते हैं, पृथ्वी के धरातल मे क्या है ?


thumbs.dreamstime.com
दोस्तों आज हम बहुत ही इंटरेस्टिंग विषय पर चर्चा करेंगे वह है जमीन को हम कितनी गहराई तक खोद सकते हैं । पृथ्वी के धरातल में क्या है यह एक बहुत ही उत्सुकता का विषय है हम में से ज्यादातर लोग जाना चाहते हैं। जमीन को हम कितनी गहराई में कहां तक खोद सकते है ।
आखिर पृथ्वी को कितनी गहराई तक खोदा जा सकता है आज हम यही इस आर्टिकल में पढ़ेंगे एवं जानेगे । हम यह भी जानेंगे कि हमारे प्लानेट पृथ्वी के बारे में हम कितना जानते है । यह सच्चाई है कि कई तरह के लोगों ने जाने अनजाने में पृथ्वी के अंदर जाने की कोशिश की है कि हम हम अक्सर देखते हैं कि लाशों को सिर्फ जलाया ही नहीं जाता ।
बल्कि उन्हें दफनाया भी जाता है और उन्हें दफनाने के लिए जमीन में 6 फीट तक का गड्ढा खोदा जाता है और यह प्रथा हजारों साल से चलती आ रही हैं । लेकिन यह सब तो ठीक है क्या आपको पता है । कि दुनिया का सबसे गहरा स्टेशन 105 मीटर नीचे है । वह यूक्रेन देश में है यह तो बस एक शुरुआत है इंसान द्वारा बनाई गई नहीं रचनाओं में से जापान की सीकर रेलवे टनल है ।
जो पृथ्वी के 240 मीटर नीचे हैं इसके अलावा नॉर्वे में भी 287 मीटर नीचे 2 अंडर ग्राउंड टनल से बनाए गए है । यह सब तो मोड्रन टेक्निक की वजह से मुमकिन हो पाया है । लेकिन 1862 मे भी इंसानों ने हाथ से एक कुआं खोदा था । Woodingdean इंग्लैंड की एक जगह है । जिसकी गहराई 390 मीटर है और वह आज भी मौजूद है इतनी गहराई में तो समुद्री सबमरीन रहते हैं ।

data.image
लेकिन इससे भी ज्यादा गहरी है दुनिया की सबसे गहरी गुफा vrtoglavica cave जो स्लोवेनिया देश में है इसकी गहराई जमीनी सतह से 603 मीटर है । यह इतनी गहरी गुफा है यह अगर इसमें आपने छलांग मारदी तो उसकी सतह है में पहुंचने में आपको 11 सेकंड लगेंगे ।
लेकिन आपको पता है कि अमेरिका के utah स्टेट मे 970 में मीटर गहरी घाटी है ।.जिसमें बुर्ज खलीफा जैसी इमारत आसानी से फिट हो सकती है । Kennecott कॉपर माइंस यह गहरा जरूर है लेकिन यह 4 किलोमीटर चौड़ा है ।
लेकिन यह तो कुछ भी नहीं फिनलैंड में एक म्यूजिकल बैंड एगोनाइजर ने 1410 मीटर नीचे म्यूजिकल कॉन्सर्ट किए थे । दोस्तों यदि आप को ऐसा लग रहा है कि हम काफी गहराई में आ चुके हैं ऐसा नहीं है ।अफ्रीका में एक ऐसा 4000 मीटर गहराई में एक माइन हैं । जिसकी गहराई तक आप को लिफ्ट से पहुंचने में 5 मिनट लग जाएंगे पर इसका मतलब यह नहीं कि इंसान सिर्फ इतनी ही गहराई तक पहुंच पाया है ।
Titanic फिल्म के डायरेक्टर जेम्स कैमरून पेसिफिक महासागर की सतह से 10908 मीटर नीचे जाकर वापस आ चुके हैं और यह पेसिफिक महासागर का मेजर क्या हुआ सबसे दीपेस्ट पार्ट है । इसके आगे जाने की हिम्मत अभी तक कोई भी इंसान नहीं कर पाया । लेकिन उसके बाद भी सोवियत यूनियन ने रशिया में 12262 मीटर गहरा एक पोलहोल खोदा था ।

2.bp.blogspot.com
जो टेक्नोलॉजी के जरिए खुदा जा सका जिस का टेंपरेचर 180 डिग्री तक पहुंच गया जिसकी वजह से काम बीच में ही रुकना पड़ा । लेकिन इस से भी आगे हाल ही में एक तेल का कुआं रसिया में खोदा गया इसकी गहराई 12376 मीटर हैं । परंतु इसके आगे इंसान अभी तक नहीं पहुंच पाया है आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इसकी गहराई हवा में उड़े जाने वाले प्लेन की ऊंचाई से भी कहीं ज्यादा है ।
लेकिन दोस्तों यह गहराई तो बस 1 मीटर है पृथ्वी के ढाईमीटर का अगर आपको पृथ्वी के दूसरे सतह पर निकलना है तो आपको 12742 किलोमीटर का फासला तय करना होगा जो लगभग नामुमकिन है । पृथ्वी के सबसे ऊपर कि जो लेयर होती है वही 70 किलोमीटर गहरी होती है ।
हमारी पृथ्वी का सेंटर है वह 6371 किलोमीटर पर हैं और यदि इतनी गहराई तक हम कोई भी गड्ढा बना सकें। तो पृथ्वी के ऊपरी सतह से हमे गिरने पर एवं पृथ्वी के सेंटर तक पहुंचने में हमें 1 घंटा 45 मिनट का समय लग जाएगा । हम आज की टेक्नोलॉजी से हम इतनी गहराई तक पहुंची नहीं सकते ।
इंसान हमेशा इससे भी ज्यादा गहराई तक पहुंचने की कोशिश करता रहेगा क्योंकि हमारी इस पृथ्वी के नीचे ऐसी चीजें हैं जैसे तेल नेचुरल गैस मेटल्स इत्यादि जिसकी हमें बहुत आवश्यकता है दोस्तों अंत में हम ईश्वर से यही प्रार्थना करते हैं कि आप हमेशा हेल्थी एवं खुश रहें ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ