Home

6/recent

आजमगढ़ में निरहुआ को शो के दौरान झेलनी पड़ रही है मुसीबत

आजमगढ़ सदर संसदीय सीट से भाजपा प्रत्याशी भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल यादव, निरहुआ अपने पूर्व निर्धारित रोड शो कार्यक्रम के दौरान 6 घंटे लेट हो जाने से जनसभा पर रात 10 बजे तक नहीं पहुंचे तो कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने हंगामा खड़ा कर दिया, सामने बैठे समर्थकों ने कुर्सियां को फेंकना शुरू कर दिया और जैसे ही समय सीमा पूरी हुई प्रशासन भी कार्यक्रम बंद कराने पहुंच गया। देर से पहुंचे निरहुआ को देखने के लिए समर्थकों ने आचार संहिता की धज्जियां उड़ायी।




बीजेपी अनुशासित पार्टी कहे जाने वाली लोकसभा चुनाव आते ही उन मर्यादाओं को भूल गए। लोकसभा आजमगढ़ के प्रत्याशी के कार्यक्रम में शिरकत कर रहे उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री चुनाव आयोग के निर्देश को जनसभा 10 बजे के बाद प्रतिबंधित को भूल गए और प्रशासन ने आचार संहिता के अनुपालन में क्षेत्राधिकारी नगर और शहर कोतवाल दिनेश लाल निरहु की जनसभा में पहुंच कर बंद कराया लाउडस्पीकर। वहीं कई घंटों से इंतजार कर रहे समर्थकों ने निरहुआ को देखने के लिए कुर्सियों को उछाल कर हंगामा किया। बता दें कि निरहुआ का रोड शो के बाद जनसभा कई घंटे लेट पहुंचे एसकेपी इंटर कॉलेज रात 10 बजे के बाद बिना लाउडस्पीकर के मंच से दिनेश लाल यादव निरहुआ लोगों को संबोधित करने लगे तो प्रशंसकों का हुजूम अनियंत्रण, जमकर शोर शराबा और कुर्सियां फेंकना शुरू कर दिया। भीड़ को नियंत्रित करने में जुटा रहा जिला प्रशासन और वहीं हॉफ रही थी पुलिस। मंच पर पहुंचे निरहुआ ने हर-हर मोदी घर-घर मोदी और भारत माता की जय के नारे लगाए पूरे कार्यक्रम में मीडिया कर्मियों की फजीहत रही। निरहुआ को घंटों इंतजार कर रहे कार्यकर्ताओं और प्रशंसकों ने जमकर कुर्सियां उछाली निरहुआ के समर्थकों का उत्साह देखने लायक था तमाम लोग सेल्फी लेने के चक्कर में स्टेज पर चढ़ गए, पूरा मंजर आचार संहिता की खुलेआम धज्जियां उड़ाता नजर आया। मीडिया कर्मी द्वारा पूछे गए प्रदेश के कैबिनेट मंत्री दारा सिंह चौहान ने बचाव करते हुए कहां पार्टी के कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने दिनेश लाल यादव की लोकप्रियता के चलते लोगों ने उन्हें हाथों में ले लिया। इस सब्र का बांध निरहुआ को लोकसभा में भेजने के बाद ही शांत होगा।
 बता दें कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को आजमगढ़ संसदीय सीट पर टक्कर देने के लिए बीजेपी के प्रत्याशी भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल निरहुआ को टिकट मिलने के बाद जनपद में पहला रोडशो किया गया। रोडशो की शुरुआत में मेहनाजपुर बाजार से शुरुआत हुई जहां हजारों-हजार की भीड़ अपने लोकप्रिय अभिनेता की झलक पाने के लिए बेताब रही। वहीं निरहुआ रोड शो के दौरान लोगों के विरोध का भी सामना करना पड़ा। उस दौरान क्षेत्र में ग्रामीणों ने अखिलेश यादव जिंदाबाद और निरहुआ वापस जाओ के नारे लगाये, विरोध कर रहे ग्रामीणों को पुलिस ने खदेड़ा भी था। जिला निर्वाचन अधिकारी/ जिलाधिकारी ने इस मामले को संज्ञान में लिया और जिम्मेदार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने की बात कही।