Home

6/recent

डीएम व एसपी ने सड़क दुर्घटना में मृतकों के प्रति गहरा शोक किया व्यक्त


सुल्तानपुर । डीएम व एसपी ने सड़क दुर्घटना में मृतकों के प्रति गहरा शोक व्यक्त किया। मृतकों के परिवारजनों को नियमानुसार यथाशीघ्र अनुग्रह व सहायता राशि दी जायेगी-डीएम। जिला चिकित्सालय में घायलों का समुचित उपचार कराया जा रहा है। जयसिंहपुर तहसील के गोसाईगंज थाना अंतर्गत मोतीगंज सोनारा में एक आल्टो कार एवं बोलेरो की टक्कर 16 मार्च की रात्रि लगभग 8ः30 बजे हो गई और वे सड़क के नीचे पलट गए ।






 दोनों गाड़ियों के बचाव कर रहे स्थानीय नागिरकों को लगभग 10 मिनट बाद आजमगढ़ से अम्बेडकरनगर होते हुए दिल्ली जा रही बस UP 17 AT 8582 से बचाव कर रहे लोगो की दुर्घटना हो गयी, जिसमें 2 व्यक्तियों की मृत्यु हो गयी और 12 लोग घायल हो गए। 5 घायलो को ट्रामा सेंटर लखनऊ के लिए रेफर किया गया है। 7 घायलों का इलाज जिला अस्पताल में किया जा रहा है। मौके पर पुलिस एवं प्रशासन के लोग राहत एवं सहायता कार्य कर रहे हैं। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने उपरोक्त सड़क दुर्घटना में मृतकों के प्रति गहरा शोक व्यक्त करते हुए ईश्वर से कामना की है कि पीड़ित परिवारों को सहन शक्ति प्रदान करें। जिलाधिकारी सी.इन्दुमती व पुलिस अधीक्षक शिव हरी मीणा ने उक्त सड़क दुर्घटना की जानकारी मिलते ही प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों को मौके पर भेजकर राहत एवं सहायता हेतु लगा दिया है।







डीएम व एसपी  जिला चिकित्सालय पहुचकर सभी घायलों के पास जाकर मिली और उनके उपचार सम्बन्धी जानकारी ली और उन्हें आश्वस्त किया कि परेशान होने की आवश्यकता नहीं है संकट की इस घड़ी में धैर्य बनाये रखें सभी का समुचित उपचार कराया जायेगा तथा यथा सम्भव सहायता भी उपलब्ध करायी जायेगी। डीएम ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. सीबीएन त्रिपाठी व मुख्य चिकित्साधीक्षक जिला चिकित्सालय डाॅ. वीबी सिंह को निर्देशित किया कि घायलों का समुचित उपचार किये जायें। उन्होंने बताया कि 5 लोग गम्भीर रूप से घायलों(सीरियस पेसेन्ट) में सुनील कुमार पुत्र गंगा राम, निवासी मोतीगंज, विपिन अग्रहरी पुत्र रामभगन, निवासी मोतीगंज, अशोक कुमार पुत्र राज नारायन, गगन तिवारी पुत्र समर बहादुर, निवासी गंगोली का पुरवा व वसीम अहमद पुत्र सगीर अहमद, निवासी बलालमऊ तथा 2 मृतकों में हसम पुत्र मासुक हुसैन, निवासी मुंगर व मो. हलीम पुत्र मो. जाकिर, निवासी सोनारा हैं, जिनके परिवारजनों को नियमानुसार अनुग्रह राशि व सहायता यथाशीघ्र दिये जाने के निर्देश अधिकारियों को दिये गये हैं।


रिपोर्ट तक़ी मेंहदी