Home

6/recent

टाण्डा की जनता है जागरूक , टांडावासियों ने कोरोना से लड़ने की शुरू की मुहिम



अम्बेडकरनगर: कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के उद्देश्य से  टाण्डा के कई इलाकों के दुकानदारों ने स्वयं लॉक डाउन कर लिया है।
टाण्डा चौक सर्राफा मंडी व कपड़ा मंडी में काफी भीड़ भाड़ होती है जिसको लेकर उप जिलाधिकारी अभिषेक पाठक व पुलिस क्षेत्राधिकारी अमर बहादुर ने गंभीरता पूर्वक दुकानदारों से अपील किया कि स्वयं का बचाव करें और दुकानों को फिलहाल बन्द रखें। एसडीएम व सीओ की सराहनीय पहल का स्वागत करते हुए स्थानीय अधिकांश दुकानदारों ने दुकान की शटर बन्द कर स्वयं को लॉक डाउन कर लिया हालांकि कई मुस्लिम इलाकों में जमा होने वाली भीड़ को लेकर स्थानीय प्रशासन व सामाजिक कार्यकर्ता काफी चिंतित हैं। आपको बताते चलेंकि कोविड 19 अर्थात कोरोना वायरस का संक्रमण लोगों से सीधे संपर्क में आने से बढ़ता है इसलिए एक दूसरे के बीच कम से कम एक मीटर की दूसरी रखें तथा कोशिश करें कि चाय पान की दुकानों पर ना बैठ कर अपने परिवार के साथ समय बिताएं।



सीओ टाण्डा अमर बहादुर ने कहा कि अभी जनपद को लॉक डाउन नहीं किया गया है लेकिन लोगों को जागरूकता का परिचय देते हुए स्वयं लॉक डाउन कर लें। उन्होंने कहा कि अगर शासन द्वारा लॉक डाउन किया भी जाएगा तो आवश्यक वस्तुओं की दुकानें जैसे राशन, सब्ज़ी, दूध, सिलेंडर, दवाएं आदि की दुकाने खुली रहेगी और जरूरत के अनुसार लोग उसे खरीद सकेंगे। उप जिलाधिकारी अभिषेक पाठक ने दुकानदारों से अपील करते हुए चेतावनी भी दिया है कि आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में बढ़ौतरी कदापि ना करें अन्यथा कालाबाज़ारी करने के जुर्म में दुकानदार के खिलाफ सख्य वैधानिक कार्यवाही कर गिरफ्तार भी किया जा सकता है।
बहरहाल कोरोना वायरस काफी खतरनाक वायरस है जो एक दूसरे के संपर्क में आने से बड़ी ही तेज़ी के साथ फैलता है जिसे रोकना स्वास्थ विभाग के लिए टेढ़ी खीर साबित होता है और हमें व हमारे समाज उसकी भारी कीमत चुकानी पड़ती है जैसा कई देशों में हो रहाहै इसलिए हमें स्वयं को लॉक डाउन कर कोरोना के संक्रमण से लड़ने की आवश्यकता है।

रिपोर्ट -मो० यूसुफ