Home

6/recent

क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाने को लेकर ग्रामीणों ने किया विरोध ,हुआ पथराव


पूरा देश जहां कोरोना वायरस से मिलकर लड़ रहा है वहीं कुछ लोग कोरोना वैरियर और सरकारी मशीनरी का विरोध कर रहे हैं। ताजा मामला रायबरेली का है जहां कोरोना के बढ़ते हुए मरीजों की संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा क्वॉरेंटाइन केंद्रों की संख्या बढ़ाने का काम चल रहा है। इसी कड़ी में आज सदर तहसील के मुलहामऊ गांव के लेखपाल और ग्राम विकास अधिकारी कर्मयोगी डिग्री कालेज पहुंचे।

 ग्रामीणों को जब यह जानकारी हुई कि उनके गाँव मे क्वरिऐन्टीन सेंटर बनने जा रहा है तो उन्होंने दोनों कर्मचारियों का घेराव कर लिया और उनके साथ गाली-गलौज शुरू कर दी, तभी उनके बीच लोगों ने पथराव भी शुरू कर दिया।




 इसकी जानकारी जब पुलिस महकमे को हुई आनन-फानन में स्थानीय भदोखर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और भीड़ को तितर-बितर किया फिलहाल मौके पर कई थानों की फोर्स तैनात कर दी गई है और घटना में शामिल एक युवक को हिरासत में ले लिया गया पुलिस हिरासत में लिए गए आरोपी से पूछताछ कर रही है।

 सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर क्वॉरेंटाइन सेंटर में पर्याप्त सुविधाएं  देने के आदेश दिए गए हैं जिसके बाद प्रशासन उन्हीं जगहों का चयन कर रहा है जहां पर सभी सुविधाएं मौजूद हैं इसके लिए प्रशासन केंद्र बनाने से पूर्व उसकी पूरी जानकारी इकट्ठा कर रहा है। इसी कड़ी में आज शहर के नजदीक भदोखर थाना क्षेत्र के मुलिहामउ गाँव मे बने कर्मयोगी डिग्री कालेज का निरीक्षण करने के लिए स्थानीय लेखपाल और ग्राम विकास अधिकारी पहुँचे। ग्रामीणों को गाँव मे क्वरिऐन्टीन केंद्र बनने की सूचना मिली तो वह भड़क गए और उन्होंने कालेज के घेराव कर लिया। पीड़ित लेखपाल की माने तो वह अधिकारी के निर्देश पर कालेज के निरीक्षण करने आया था, उसी समय ग्रामीणों ने घेर लिया और पथराव कर दिया। इसकी सूचना पुलिस को दी जिसके बाद पुलिस आई।

रिपोर्ट-अमर प्रताप सिंह