Home

6/recent

योगी राज में रक्षक बने भक्षक, नाबालिक बालिका के साथ दुर्व्यवहार का पुलिस पर लगा आरोप

 योगी राज में अभी भी सूबे की क़ानून व्यवस्था व ख़ास कर लड़कियों, महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल बना हुआ है। जहां रक्षक ही भक्षक बन जाए तो सुरक्षा की गुहार किससे लगाये, ऐसा ही मामला घृणित करने वाला आजमगढ़ में फायर ब्रिगेड के पुलिसकर्मी द्वारा 10 वर्षीय नाबालिग बालिका को बहला-फुसलाकर उसके साथ छेड़खानी का आरोप लगा है। नगर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर दीवान को गिरफ्तार कर लिया है, पुलिस अधीक्षक ने दीवान को सस्पेंड कर दिया है।

 आज़मगढ़ में पुलिसकर्मी की करतूत ने खाकी को शर्मसार कर दिया है। जहां जिले के फायर ब्रिगेड के सिपाही द्वारा 10 साल की नाबालिक बच्ची के साथ छेड़खानी के चलते शहर में हंगामा हो गया। परिजनों का आरोप है कि बच्ची साइकिल में हवा भरवाने निकली तभी फायर ब्रिगेड के सिपाही जो शराब पिए हुए, बच्ची को किनारे ले जाकर कोल्ड ड्रिंक की बोतल का ढक्कन खुलवाने के बहाने ले जाकर उनके साथ रेप करनेे का प्रयास करने लगा, तभी वहां दो लोग मौके पर मौजूद को देख फायर ब्रिगेड सिपाही मौके से निकल, ऑटो रिक्शा में बैठ कर भाग खड़ा हुआ। घटना को लेकर वहां के लोग आक्रोशित हो गये, जहां पुलिस के आला अफसर मौके पर पहुंचकर कार्रवाई की बात कही। कोतवाली पुलिस ने जहां उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया की सिपाही को गिरफ्तार कर लिया गया है, सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है और सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया। वहीं पीड़िता को मेडिकल के लिए भेजा गया।

रिपोर्ट : गौरव श्रीवास्तव