Home

6/recent

कोरोना संकट के बीच सियासी भंवर में फसी अमेठी, अमेठी की सांसद स्मृति ईरानी को बताया गया लापता ,अमेठी में पोस्टर वार पर सियासत


अमेठी : कोरोना महामारी के बीच उत्तर प्रदेश में सियासी घमासान जारी है. प्रदेश में जितनी तेजी से कोरोना का संक्रमण फैल रहा है उतनी ही तेजी सियासत भी हो रही है. केंद्रीय मंत्री व अमेठी सांसद स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में एक बार फिर पोस्टर वार शुरू हो गया है. सांसद स्मृति ईरानी के खिलाफ उनके ही संसदीय क्षेत्र में पोस्टर चस्पा किए गए हैं. जिसमें पोस्टर चस्पा करने वाले ने कई बिंदुओं पर उनसे सवाल किया है. पोस्टर में केंद्रीय मंत्री को लापता सांसद भी लिखा गया है. हालांकि पोस्टर किसने लगवाया है अभी इसका खुलासा नहीं हो सका है.


सोमवार दोपहर जिले के जामो के अतरौली, शाहगढ़ ब्लॉक के बहोरखा प्राथमिक पाठशाला व आसपास के खंभों पर केंद्रीय मंत्री और अमेठी सांसद स्मृति ईरानी के खिलाफ दीवारों पर पोस्ट लगाए गए हैं. पोस्टर में लिखा गया है लापता सांसद से सवाल. पोस्टर में आगे लिखा गया है कि ''अमेठी से सांसद बनने के बाद (साल भर में 2 दिन) महज कुछ घंटो में अपनी उपास्थिति दर्ज कराने वाली सांसद अमेठी स्मृति ईरानी आज कोरोना महामारी के दर्द से अमेठी की समस्त जनता भयभीत और त्रस्त है. हम नहीं कहते कि आप गायब हैं.




 हमने आपको ट्वीट के माध्यम से अन्ताक्षरी खेलते हुए देखा है. हमने आपके माध्यम से एकात व्यक्ति को लंच देते हुए देखा है. लेकिन अमेठी सांसद होने के नाते से आज इस विपरीत समय में अमेठी की मासूस जनता अपनी आवश्यकताओं और परेशानियों के लिए आपको ढ़ूंढ़ रही है. विगत कई महीनों की परेशानियों के बीच में यूं ही अमेठी की जनता को निराश्रित छोड़ देना यह दर्शाता है कि शायद अमेठी आपके लिए महज टूर हब है. क्या अब आप अमेठी में सिर्फ कंधा ही देने आएगी?

बता दें कि इससे पहले भी अमेठी में कई बार पोस्टर वार हो चुके हैं. भाजपा, कांग्रेस व समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे के खिलाफ पोस्टर चस्पा कर आरोप-प्रत्यारोप करते आए हैं.