Home

6/recent

शादी कराने का झांसा देकर 90 हज़ार की ठगी, आरोपी गिरफ़्तार

कौशांबी ज़िले में शादी का झांसा देकर बागपत के रहने वाले एक युवक से शतिरो ने 90 हज़ार रुपये ठग लिया। हालांकि युवक अपने को ठगा महसूस करने पर एक शातिर को पकड़ लिया। जिसको छुड़ाने के लिये विधायक लिखी गाड़ी से आधा दर्जन बदमाश आये। लेकिन सही समय पर मंझनपुर पुलिस मौके पर पहुच गयी। जिससे बदमाशो को उल्टे पाव भागना पड़ा। शातिर को गिरफ्तर कर थाने ले गयी। दरअसल सरसावा निवासी प्रताप बागपत के बड़ौत में प्राइवेट नौकरी करता था। बड़ौत के ही रहने वाले संजीव से उसकी दोस्ती हो गयी। संजीव ने अपनी शादी का प्रस्ताव रखा तो प्रताप ने जनपद में शादी करवाने की बात कही। साथी होने के कारण संजीव और उसका भाई सचिन शादी करने प्रताप के पास कौशांबी के मंझनपुर पहुच गए। प्रताप ने एक युवती और उसकी कथित माँ से दोनों भाइयों को मिलवाया। बात तय होने पर जेवरात सहित 90 हज़ार रुपये दिया। उसके बाद युवती और उसकी कथित माँ चकमा देकर मौके से फ़रार हो गए। 


साथ ही प्रताप भी बहाना बना कर वह से निकलना चाह रहा था। हालांकि कुछ देर बाद विधायक लिखी गाड़ी से आधा दर्जन बदमाश आये और प्रताप को जबरन गाड़ी में बैठाने लगी। इसका विरोध दोनों भाइयों ने किया तो वह भीड़ इकट्ठा होने लगी। मामला एसपी ऑफिस के करीब का होने के चलते मौके पर मंझनपुर पुलिस पहुच गयी। पुलिस देख बदमाश भाग निकले। तो वही पुलिस प्रताप को गिरफ़्तार कर थाने लायी। पुलिस ने पीड़ित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर ठगी करने वाली कथित माँ-बेटी की तलाश कर रही हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ