Home

6/recent

पाकिस्तान की जेल से रिहा होकर हिंदुस्तान पहुंचा हिंदुस्तानी, देखिए कैसा रहा हाल

बांदा जनपद के अतर्रा थाना के पचोखर गांव के रहने वाले एक व्यक्ति 15 वर्ष पहले भटकते भटकते पाकिस्तान पहुंच गया था। जिसको पाकिस्तान की लाहौर की जेल में बंद था, जिसमें पाकिस्तान जेल से 30 अगस्त को बाघा बॉर्डर में भारत को सुपुर्द किया था। जिसमें बांदा प्रशासन को सुपुर्द किया गया है। जिसमे  आज पाकिस्तान से रिहा व्यक्ति को परिजनों के सुपुर्द किया गया।


जनपद के अतर्रा थाना क्षेत्र अंतर्गत पचोखर गांव निवासी 45 वर्षीय व्यक्ति रामबहादुर पुत्र गिल्ला लगभग 15 वर्ष पहले अपने घर से चला गया था। और भटकते भटकते पाकिस्तान के बॉर्डर के अंदर घुस गया था। जिसको पाकिस्तान की फोर्स के द्वारा लाहौर जेल में बंद कर दिया गया था। और 12 वर्षों के बाद रामबहादुर को रिहा कर 30 अगस्त 2021 को पंजाब प्रांत के अमृतसर में सुपुर्द कर दिया गया है। और बांदा जिला अधिकारी आनंद कुमार सिंह के निर्देशन पर टीम बनाकर बबेरू नायब तहसीलदार अभिनव तिवारी अतर्रा थाने पर तैनात उपनिरीक्षक सुशील चौरसिया को अमृतसर भेजा गया था। और आज गुरुवार की दोपहर राम बहादुर को बबेरू तहसील पहुंचा दिया गया है। और उसके परिजनों को सुपुर्द करने के लिए बबेरू नायब तहसीलदार टीम के साथ पचोखर गांव पहुंचकर परिजनों के सुपुर्द किया। जैसे ही परिजनों ने राम बहादुर को देखा तो खुश हो गए और बूढ़े मां बाप के आंखों में आंसू छलक उठे सभी परिजनों ने राम बहादुर का फूल माला पहनाकर व मुंह मीठा करा कर स्वागत किया। पाकिस्तान से लौट कर आए राम बहादुर को देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठा हो गई। जिससे ग्रामीणों के द्वारा सब कोई राम बहादुर से पाकिस्तान में हुए 12 साल में क्या हुआ क्या नहीं हुआ क्या खाना देते थे। यह सब पूछते रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ